341 total views,  1 views today

देहरादून स्थित वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआई) कोविड-19 प्रोटोकॉल के पालन के साथ 13 दिसंबर से पर्यटकों के लिए फिर से खुल जाएगा। रोजाना सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक केवल 200 लोगों को परिसर में आने की अनुमति होगी


सभी पर्यटक अपना पंजीकरण संस्थान की बेवसाइट fri.icfre.gov.in पर कर सकते हैं। इससे संबंधित समस्त जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध है। संस्थान में सुबह और शाम की वॉक के लिए एफआरआई परिसर पहले की तरह ही खुला रहेगा।


पिछले दिनों आईएफएस अफसरों के संक्रमित मिलने के बाद एफआरआई में पर्यटकों का प्रवेश बंद कर दिया गया था। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी में मिड टर्म प्रशिक्षण लेने आए गुजरात, झारखंड, हिमाचल प्रदेश समेत कई राज्यों के 11 वरिष्ठ आईएफएस अधिकारियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद वन अनुसंधान संस्थान में पर्यटकों और मॉर्निंग वॉकर्स समेत तमाम बाहरी लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई थी

संस्थान निदेशक अरुण सिंह रावत की ओर से इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए थे। सिर्फ संस्थान के अधिकारियों, र्वैज्ञानिकों और कर्मचारियों को ही परिसर में दाखिल होने की इजाजत थी।

कोरोना की पहली लहर होने के बाद संस्थान परिसर को लगातार दो साल तक पर्यटकों और मॉर्निंग वॉकर्स के लिए बंद रखा गया था। हालात सामान्य होने के बाद संस्थान निदेशक पर की ओर से मॉर्निंग वाकर्स और पर्यटकों के लिए संस्थान परिसर को खोला गया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *