300 total views,  1 views today

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री एवं शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक को केजरीवाल मॉडल पर बहस के लिए दिल्ली बुलाया था मदन कौशिक दिल्ली नहीं गए वह बुधवार को देहरादून में मौजूद रहे उन्होंने कहा कि वह मनीष सिसोदिया से कोई बात नहीं करेंगे उन्हें जो बोलना होगा वह राज्य की जनता से कहेंगे कहा कि मनीष सिसोदिया पर्यटन राजनीति कर रहे हैं सिसोदिया ने बहस के लिए बुधवार (6 जनवरी) सुबह 11 बजे का समय तय किया था उन्होंने कहा था कि अगर आप अपनी सरकार के पांच काम नहीं गिना सकते तो कम से कम केजरीवाल का काम तो देख सकते हैं

मनीष सिसोदिया की ओर से जारी किए गए पत्र में कहा गया था कि चार जनवरी को वह कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक के चैलेंज का स्वीकार करते हुए बहस करने के लिए देहरादून आए थे लेकिन मदन कौशिक नहीं आए उन्होंने आरोप लगाया कि इससे साबित होता है कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने चार साल में जनता के लिए ऐसा काम ही नहीं किया, जो गिनाया जा सके उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा की सरकार काम के बजाय भ्रष्टाचार में लगी हुई है यहां के विधायक पूरन फर्त्याल की शिकायतें सबको पता हैं

उन्होंने मंत्री हरक सिंह रावत के बारे में चल रहे विवादों की भी चर्चा की उन्होंने कई और मुद्दों के बहाने भाजपा की प्रदेश सरकार पर सवाल खड़े किए उन्होंने मदन कौशिक को छह जनवरी को सुबह 11 बजे केजरीवाल मॉडल पर बहस के लिए दिल्ली आमंत्रित किया था उन्होंने कहा था कि वह ऐसे स्कूल दिखाएंगे जो कि जीर्ण-शीर्ण थे, लेकिन तीन साल की मेहनत के बाद आज वहां से पढ़े हुए बच्चे मेडिकल, इंजीनियरिंग में दाखिला ले रहे हैं ऐसे लोगों से भी मिलवाऊंगा जिनके बिजली बिल केजरीवाल गवर्नेंस मॉडल की वजह से जीरो आ रहे हैं उन्होंने कहा था कि ऐसी महिलाओं से भी मिलवाएंगे जो कि बसों में मुफ्त सफर करती हैं उन्होंने कहा था कि इस बार पूरी उम्मीद है कि मदन कौशिक केजरीवाल मॉडल पर बहस से पीछे नहीं हटेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *